Monday, February 9, 2015

Chocolate !!


''अच्छा ये बताओ ..
कि तुम्हें मैं ज़्यादा पसंद हूं...
या चॉकलेट्स ??''
मैंने यूं ही कह दिया था.. चॉकलेट्स!!
और फिर उसके बाद 
तुम जब भी आये.. 
चॉक्लेट्स के साथ ही आये..
वक़्त गुज़र गया..
पर मैंने उन चॉक्लेट्स के रैपर्स आज भी सहेज रखे हैं
उनमें चॉकलेट्स तो नहीं हैं..
पर रैपर्स पर तुम्हारे हाथों के स्पर्श को
अब भी महसूस कर लेती हूं..
पता है क्यों..?
क्योंकि मुझे तुम ज़्यादा पसंद हो..
चॉकलेट्स नहीं..






3 comments:

  1. यही तो प्यार होता है जब साथ हो तो भी और ना हो तो भी मन तो अनमना होगा ही…………ये भी प्यार का एक अन्दाज़ है।

    ReplyDelete
  2. प्रेम के मधुर एहसास चोकलेट के साथ .... यादें जो जुड़ जाती किसी एक के साथ ...

    ReplyDelete

आपके कमेंट्स बेहद अनमोल हैं मेरे लिए...मेरा हौसला बढ़ाते हैं...मुझे प्रेरणा देते हैं..मुझे जोड़े रखते आप लोगों से...तो कमेंट ज़रूर कीजिए।