Thursday, August 2, 2012

तू हमेशा मेरे साथ हो..


तो क्या हुआ कि हम पास नहीं,
मेरी भावनाएं तिथियों की मोहताज नहीं
तू रहे जहां..रहे खुश वहां, 
मिले सब तुम्हें..जो चाहो यहां
तेरे दामन में खुशियां हज़ार हों, 
हर मौसम जो आए वो बहार हों
तेरे हिस्से में सिर्फ प्यार हो, 
जो तू चाहे वही सब यार हो
न बांध पाऊं तेरे हाथ में राखी अगर, 
कभी कम नहीं ये प्यार हो
मैं हमेशा तेरा साथ दूं ,
तू हमेशा मेरे साथ हो.. !!