Friday, September 2, 2011

वास्तु- सूत्र 2

वास्तु के दूसरे सूत्र के अनुसार घर की उत्तर-पूर्व (NORTH-EAST) दिशा यानी ईशान कोण को खाली और साफ सुथरा रखना चाहिए। इस दिशा में सम्भव हो तो हल्की चीजें ही रखें। जितना भार ईशान कोण में हो उसका लगभग डेढ़ गुना वजन नैऋत्य कोण में रखा जाना चाहिए। दक्षिण-पश्चिम (SOUTH-WEST) कोण यानि नैऋत्य कोण भारी होना चाहिए।



No comments:

Post a Comment

आपके कमेंट्स बेहद अनमोल हैं मेरे लिए...मेरा हौसला बढ़ाते हैं...मुझे प्रेरणा देते हैं..मुझे जोड़े रखते आप लोगों से...तो कमेंट ज़रूर कीजिए।